सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
नकारात्मक विचारों से मन की सुरक्षा करना बहुत जरूरी: बीके सुदेश दीदी यहां हृदय रोगियों को कहा जाता है दिलवाले आध्यात्मिक सशक्तिकरण द्वारा स्वच्छ और स्वस्थ समाज थीम पर होंगे आयोजन ब्रह्माकुमारीज संस्था के अंतराष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू दादी को डॉ अब्दुल कलाम वल्र्ड पीस तथा महाकरूणा अवार्ड का अवार्ड एक-दूसरे को लगाएं प्रेम, खुशी, शांति और आनंद का रंग: राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी इस विद्यालय की स्थापना से लेकर आज तक की साक्षी रही हूं: दादी रतनमोहिनी
ओम शांति मंत्र नई ऊर्जा देता है - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
ओम शांति मंत्र नई ऊर्जा देता है

ओम शांति मंत्र नई ऊर्जा देता है

मध्य प्रदेश राज्य समाचार
  • इंदौर में प्रशासक सेवा प्रभाग का सम्मेलन आयोजित
  • प्रशासक, कार्यपालक और प्रबंधकों ने लिया भाग

शिव आमंत्रण, इंदौर। ब्रह्माकुमारीज़ के प्रशासक सेवा प्रभाग द्वारा ज्ञान शिखर ओमशांति भवन में प्रशासनिक सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें बड़ी संख्या में प्रशासकों, कार्यपालकों एवं प्रबंधकों ने भाग लिया। मप्र शासन के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि ओम शांति ऐसा मंत्र है जो जीवन को प्रेरणा, ऊर्जा , संकल्प और शक्ति देता है। यह शब्द हमारे विचारों को सकारात्मक दिशा में ले जाता है। अधिकारियों को तनाव से दूर करने का इससे बेहतर कोई दूसरा उपाय नहीं हो सकता। अधिकारी अगर तनाव मुक्त रहेंगे तो और अधिक नई ऊर्जा के साथ काम कर पाएंगे। ओम शांति के एक मंत्र में शांति के साथ सुकून, विश्वास, प्रेम, आस्था सबकुछ समाया है। प्रशासक सेवा प्रभाग की राष्ट्रीय अध्यक्ष बीके आशा दीदी ने कहा प्रशासक का जीवन कर्मयोगी की तरह होना चाहिए। कर्मयोगी अर्थात कर्म-योग दोनों का संतुलन। अधिकारी आध्यात्मिक रूप से इतना सशक्त हो जो हर परिस्थिति का सामना कर सके। मप्र विधानसभा के प्रमुख सचिव अवधेश प्रताप सिंह ने कि विस में तनाव के माहौल के बीच काम करने में राजयोग मेडिटेशन से उन्हें बहुत सहयोग मिलता है। क्षेत्रीय निदेशिका बीके हेमलता दीदी ने कहा कि स्व प्रशासन ही उत्कृष्ट प्रशासन की नींव है। प्रशासन में उत्कृष्टता आध्यात्मिकता से आएगी। कलेक्टर डॉ. इलैया राजा, आईआईएम के निदेशक प्रो. हिमांशु रॉय, मुख्यालय संयोजक बीके हरीश, एडि. कमिश्नर रजनीश श्रीवास्तव, प्रभाग की क्षेत्रीय समन्वयक बीके ऊषा दीदी ने भी विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *