सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
सही शिक्षा, सही सोच और सही ज्ञान ही हमें ताकत दे सकता है कला के जादू से जीवंत हो उठी रचनाएं, सम्मान से बढ़ाया कलाकारों का मान कलाकार कैनवास पर उकेर रहे मन के भाव कारगिल युद्ध में परमात्मा की याद से विजय पाई: ब्रिगेडियर हरवीर सिंह भारत और नेपाल में भाईचारा का नाता है: नेपाल महापौर विष्णु विशाल राजनेताओं का जीवन आध्यात्मिक होगा तो भारत समृद्ध बनेगा सेना जितनी सशक्त रहेगी हम उतनी शांति से रहेंगे: नौसेना उपप्रमुख घोरमडे
मनुष्य तन में अवतरित होकर स्वयं अपना परिचय देते हैं शिव - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
मनुष्य तन में अवतरित होकर स्वयं अपना परिचय देते हैं शिव

मनुष्य तन में अवतरित होकर स्वयं अपना परिचय देते हैं शिव

मध्य प्रदेश राज्य समाचार

सर्व धर्म सम्मेलन में बीके जयंति के विचार

शिव आमंत्रण, इंदौर। समाजिक सद्भावना के उद्देश्य को लेकर इंदौर के कालानी नगर सेवाकेंद्र पर आयोजित सर्वधर्म सम्मेलन में अविनाशी अखंड धाम से राजानंद महाराज, मुस्लिम धर्म से मोहम्मद स्माइल साबरी, तोपखाना साहिब गुरूद्वारे से परमजीत सिंह जानी, न्यू एपोस्टोलिक चर्च से हरिसन करौले मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप जलाकर एवं शिव तांडव नृत्य के साथ हुआ।
सेवाकेंद्र प्रभारी बीके जयंति ने अपने व्यक्तव्य में कहा, कि परमात्मा के अवतरण का यादगार ही महाशिवरात्री पर्व है और सुख, शांति का साम्राज्य स्थापित करना ही उनका मुख्य कर्तव्य है। कलयुग के इस अंतिम समय में चारों और अधर्म का बोलबाला है और इसी अधर्म को समाप्त कर सत्य धर्म की स्थापना करने के लिए परमात्मा इस समय साधारण मनुष्य तन में अवतरित होकर स्वयं अपना परिचय देते हैं तथा सुख शांति की दुनिया की स्थापना करते हैं।
इस मौके पर परमजीत सिंह जानी ने बताया कि धर्म एक रेड सिग्नल की तरह है जो हमें गलत कर्म करने से रोकता है। स्वामी राजानंद जी महाराज ने शांति प्राप्ति को ही धर्म का स्वरूप बताया। तथा मोहम्मद इस्माइल साबरी ने आपसी भाईचारे और एकता को ही धर्म की संज्ञा दी। जबकि श्री हरिसन करौले ने धर्म के नाम पर प्रेम, शांति और सौहार्द को बनाए रखने की प्रेरणा दी।
तत्पश्चात सभी धर्मों से पधारे अतिथियों द्वारा शिव ध्वजारोहण का कार्यक्रम संपन्न किया गया तथा ब्रह्माकुमारी कविता दीदी ने सभी को शिव ध्वज के नीचे प्रतिज्ञा करवाई, अतिथियों को ईश्वरीय सौगात देकर कार्यक्रम संपन्न किया गया।
सर्वप्रथम ईश्वरीय स्मृति तथा दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई और कु. श्रेयसी तथा
कु . सोनिया ने शिव महिमा तथा शिव तांडव पर आधारित नृत्य प्रस्तुत किया तथा गायक हिमांशु शर्मा ने शिव महिमा पर एक मार्मिक गीत की प्रस्तुति दी। बीके सुजाता ने गाइडेड कमेंट्री के द्वारा राजयोग मेडिटेशन की गहन अनुभूति कराई। बीके वैभव ने मंच संचालन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *