सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
सही शिक्षा, सही सोच और सही ज्ञान ही हमें ताकत दे सकता है कला के जादू से जीवंत हो उठी रचनाएं, सम्मान से बढ़ाया कलाकारों का मान कलाकार कैनवास पर उकेर रहे मन के भाव कारगिल युद्ध में परमात्मा की याद से विजय पाई: ब्रिगेडियर हरवीर सिंह भारत और नेपाल में भाईचारा का नाता है: नेपाल महापौर विष्णु विशाल राजनेताओं का जीवन आध्यात्मिक होगा तो भारत समृद्ध बनेगा सेना जितनी सशक्त रहेगी हम उतनी शांति से रहेंगे: नौसेना उपप्रमुख घोरमडे
बीमारी एक परंतु रूप अनेक…… - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
बीमारी एक परंतु रूप अनेक……

बीमारी एक परंतु रूप अनेक……

अलविदा-डायबिटीज़


डायबिटीज मधुमेह के विभिन्न प्रकार
निर्धारित कारण संबंधित डायबिटीज (Other Specific Type or Secondary Diabetes) मुख्यत: डायबिटीज एक जीवन शैली जनित बीमारी है परंतु कुछ एक मनुष्यों में कुछ निर्धारित कारणों से यह बीमारी का जन्म दिखाई देता है। मुख्य कारणों का उल्लेख निम्न प्रकार है :-

1 पैंक्रियास ग्रंथि का Beta Cell (बीटा कोशिका) में जेनेटिक (Genetic) विकृतियों (Defect) :- जैसे कि M€€ODY 1 से 6 प्रकार ।

1 इंसुलिन का कार्य प्रणाली में विकृति (Genetic Defect) जैसे कि Type A Resist´´´anceÛæÐ

1 पैंक्रियास ग्रंथि का बाह्य स्रावी अंश में बीमारी :- जैसे कि ग्रंथि में पथरिया हो जाना (Fibro calculus Pancreatopathy)

1 अंत: स्रावी ग्रंथियों की विकृतियों :- जैसे कि एक्रोमेगाली । Ð (Acromegaly) कुशिंग सिंड्रोम (ŽCushing Syndromme)

1 कुछ दवाइयों के प्रभाव (Drugs):- जैसे कि स्टीरॉएड् (Steroids) मानसिक रोगों के लिए बहुत दवाइयां है।

1 इनफेक्शन्स् (Infections):- जैसे कि रूबेला (Congenital Rubella) मंप्स (Mumps), Other Bacterial Infections

1 असाधारण बीमारियां :- UUncommon form of Immune Mediated Desease जैसे कि Stiffman Syndromme.

1 अन्यान्य जेनेटिक बीमारियां :- जैसे कि Down ñSyndromme, Turner Syndromme आदि आदि।

कुछ विशेष ज्ञातव्य बातें :-
यह चौथा प्रकार की डायबिटीज बहुत विरल है जो किसी हजारों में एक मरीज में पाया जाता है इस प्रकार की डायबिटीज की चर्चा हम इसलिए कर रहे हैं कि इसका संपूर्ण जानकारी हो ताकि हम सही उपचार कर सकें।
सही उपचार तो किसी विशेषज्ञ ही करेंगे परंतु हमें यह जानकारी रखना विशेष जरूरी है कि हमारा शुगर (Blood sugar) सामान्य (Normal) है या नहीं। कारण कुछ भी हो अगर शुगर सामान्य है तो हम डायबिटीज के दुष्प्रभाव से बच सकते हैं।

कैसे पता करें ?
यह चौथा प्रकार का डायबिटीज का निदान तो वास्तव में किसी विशेषज्ञ द्वारा ही हो सकेगा इसलिए अगर स्वास्थ्य की चेकिंग और परामर्श मधुमेह विशेषज्ञ वा Endocrinologist से कराएं ताकि सही निदान हो सके और सही उपचार भी हो सकें।

कुछ ध्यान देने योग्य बातें :-
कभी कुछ जरूरी कालीन परिस्थिति में वा कुछेक बीमारी में Steroid की गोलियां लेना अनिवार्य है। नचेत जीवीत रहना असंभव हो जाता है। अगर किसी को लंबे समय तक Steroid लेना पड़ता है तो अवश्य ही अपना ब्लड सुगर बीच-बीच में चेक कराते रहें। अगर शुगर बढ़ता है तो मधुमेह विशेषज्ञ से परामर्श कर उपचार करायें।
किसी की पेक्रियास ग्रंथि में Infection  (Pancre´atitis) हो जाता है तो शीघ्र ही उसका विशेषज्ञ द्वारा चिकित्सा करायें। नचेत यह कभी-कभी जानलेवा भी बन सकती है। साथ-साथ अपना ब्लड सुगर भी चेक कराते रहें। Follow up करें। यदि सुगर की मात्रा ज्यादा रहती है तो इंसुलिन (Insulin) का उपचार करना भी अनिवार्य है। नचेत गोलियों से ज्यादा नुकसान हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खबरें और भी

 डायबिटीज के दुष्प्रभाव

डायबिटीज के दुष्प्रभाव

अलविदा-डायबिटीज़ 16 March 2022
 डायबिटीज के दुष्प्रभाव

डायबिटीज के दुष्प्रभाव

अलविदा-डायबिटीज़ 23 January 2022
 डायबिटीज के दुष्प्रभाव

डायबिटीज के दुष्प्रभाव

अलविदा-डायबिटीज़ 17 December 2021