सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
सही शिक्षा, सही सोच और सही ज्ञान ही हमें ताकत दे सकता है कला के जादू से जीवंत हो उठी रचनाएं, सम्मान से बढ़ाया कलाकारों का मान कलाकार कैनवास पर उकेर रहे मन के भाव कारगिल युद्ध में परमात्मा की याद से विजय पाई: ब्रिगेडियर हरवीर सिंह भारत और नेपाल में भाईचारा का नाता है: नेपाल महापौर विष्णु विशाल राजनेताओं का जीवन आध्यात्मिक होगा तो भारत समृद्ध बनेगा सेना जितनी सशक्त रहेगी हम उतनी शांति से रहेंगे: नौसेना उपप्रमुख घोरमडे
जन जन का कल्याण करें तू शिव की शक्ति है नारी - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
जन जन का कल्याण करें तू शिव की शक्ति है नारी

जन जन का कल्याण करें तू शिव की शक्ति है नारी

मध्य प्रदेश राज्य समाचार

महिला दिवस पर बीके निर्मला के विचार

शिव आमंत्रण, रीवा। म.प्र. के रीवा में सेवाकेंद्र प्रभारी बीके निर्मला के निर्देशन में महिलाओं के सम्मान में एक विशाल कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें नारी को अपनी शक्ति पहचानने के लिए संस्थान द्वारा सिखलाए जा रहे नि:शुल्क राजयोग सिखने का आहवान किया गया।
इस मौके पर महिला थाना प्रभारी आराधना सिंह परिहार, बाल कल्याण समिति की अध्यक्षा ममता नरेंद्र सिंह, आरोग्य भारती की प्रांतीय अध्यक्षा डॉ. सरोज सोनी, डॉ. पल्लवी श्रीवास्तव, वरिष्ठ अधिवक्ता शशिप्रभा समेत अनेक विशिष्ट महिलाओं को बीके निर्मला ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मनित किया और परमात्मा को पहचान उनसे सर्व शक्तियां लेकर सर्वगुण संपन्न बनने की प्रेरणा दी।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महिला थाना प्रभारी आराधना सिंह परिहार ने कहा, कि महिलाओं के तो पूरे वर्ष में 365 दिन ही होते हैं। आज से हर दिवस हम सभी महिला दिवस के रूप में मनाएं। उन्होने कहा की, यहां ब्रह्माकुमारी संस्थान के इस कार्यक्रम में आने पर विशेष आत्मिक सुख प्राप्त हुआ।
बाल कल्याण समिति की अध्यक्षा ममता नरेंद्र सिंह ने कहा, की नारी सृष्टि की शीर्ष है। महिलाएं अगर आज बच्चों को अच्छा और संस्कारवान बनाएं तो समाज जरूर अच्छा बनेगा।
आरोग्य भारती की प्रांतीय अध्यक्ष डॉ. सरोज सोनी ने बताया, कि ब्रह्माकुमारी आश्रम मे सर्व समस्याओं के समाधान के लिए राजयोग मेडिटेशन फ्री सीखाया जाता है। हम सभी को आज अपनी अव्यवस्थित दिनचर्या को व्यवस्थित करने का प्रण लेना चाहिए।
डॉक्टर पल्लवी श्रीवास्तव ने कहा, कि नजर का इलाज तो संभव है लेकिन नजरिए का नहीं। इसके लिए नारी को खुद को जागृत करना पड़ेगा।
वरिष्ठ अधिवक्ता शशिप्रभा ने कहा, कि यदि नारी मर्यादा में रहे तो अपराध अपने आप कम हो जाएगा।
कार्यक्रम के अगले क्रम में विंध्य विकास प्राधिकरण के पूर्व उपाध्यक्ष बहन विमलेश मिश्रा ने महिलाओं के सम्मान में काव्य पाठ किया। श्रीमती राजकली पटेल ने गीत के माध्यम से महिलाओं को आगे बढऩे के लिए संदेश दिया।
मुंबई से पधारी नीलू बहन ने कहा, कि जब से राजयोग मेडिटेशन सीख कर परमात्मा को पहचाना तबसे मेरे जीवन मे खुशियों का पारावार ही न रहा।
एनसीसी कैडेट कोर की ओर से अंजू पटेल, अर्पिता शुक्ला, आकांक्षा पाठक, साक्षी त्रिपाठी, कोमल तिवारी और वैष्णवी रानी बघेल को संस्थान की ओर से बीके निर्मला ने अंग वस्त्र, माला और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।
सम्मान प्राप्त करने वाली अन्य विभूतियों में मुख्य रूप से नम्रता सिंह, प्रतिभा सिंह बघेल, सुधा पटेल, राजकली पटेल, डॉक्टर सरोज सोनी, मनीषा धुर्वे, श्रीमती शशि प्रभा सिंह, आराधना सिंह परिहार, तमन्ना अंसारी, विमलेश मिश्रा, ममता नरेंद्र सिंह, अंजू पटेल, योगिता सिंह परिहार के अलावा अन्य सैकड़ों महिलाओं और बुद्धिजीवियों को भी सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम में महिलाओं का स्वागत कल्पना कल्याण समिति के अध्यक्ष बीपी सिंह ने किया और मंच का संचालन सृष्टि सिंह चौहान ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *