सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
पिताश्री ब्रह्मा बाबा का 54वां पुण्य स्मृति आज, देशभर से पहुंचे 20 हजार लोग राजयोग और आध्यात्म शक्ति ने मुझे अंधकारमय जीवन से बाहर निकाला भौतिक विकास का सुख चाहिए तो आध्यात्मिक विकास भी करना होगा राष्ट्रपति के आगमन को लेकर सज-धजकर तैयार हुआ शांतिवन राजयोगी किड्स विंटर कॉर्निवाल में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा बेहतर सुविधायें उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध रहेगा इंडियन बैंक बच्चों में प्रतिभाओं को निखारने के साथ नैतिक मूल्यों का भी विकास करें
राजयोगी किड्स विंटर कॉर्निवाल में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
राजयोगी किड्स विंटर कॉर्निवाल में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा

राजयोगी किड्स विंटर कॉर्निवाल में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा

मुख्य समाचार

– छह दिवसीय राजयोगी किड्स विंटर कार्निवाल आयोजित
–  भारत सहित अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा और आस्ट्रेलिया से आए पांच से अधिक बच्चों ने दिखाई अपनी प्रतिभा
– कबड्डी, खो-खो, लेमन स्पून स्पर्धा, चेयर रेस, डांस, पेंटिंग से लेकर दौड़ में लिया भाग

शिव आमंत्रण, आबू रोड, 28 दिसंबर (निसं)। ब्रह्माकुमारीज संस्थान में छह दिवसीय राजयोगी किड्स विंटर कॉर्निवाल का आयोजन किया गया। इसमें भारत सहित अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया से आए पांच सौ से अधिक बच्चों ने भाग लेकर अपनी प्रतिभा दिखाई। समापन पर सभी बच्चे को दो लाइन बनाकर चार ग्रुप में बांटा गया। इसमें पहला दादी प्रकाशमणि हाउस, दूसरा दादी जानकी हाउस, तीसरा दादी गुलजार हाउस और चौथा दादी रतनमोहिनी हाउस की कैटेगरी में बांटकर नारे लगाते हुए फरिश्ते रूप में चक्कर लगाया।

कॉर्निवाल में नृत्य पेश करती बालिका।

समापन में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचीं शकलाका बूम बूम जैसी कई पॉपुलर टीवी शो में अभिनय कर चुके एक्टर किंशूक वैद्य ने कहा कि आप अपने माता-पिता का धन्यवाद करें कि वह आप सबको ऐसे सुंदर जगह पर लाए हैं। यहां आपको जीवन की कई तरह की सीख प्राप्ति हुई है। मैं समझता हूं कि पढ़ाई वह नहीं होती जो हम किताबों में पढ़ते हैं, लेकिन सच्ची पढ़ाई हम लोगों के बीच प्रैक्टिकल रूप में पढ़ते हैं। ब्रह्माकुमारीज के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय ने कहा कि आपको देखकर हमें भी अपना बचपन याद आ गया। जब मैं यहां आया था तो दादी ने हमें बहुत कुछ सिखाया। डायरी देकर रोज परमात्म मुरली महावाक्य लिखने को कहा करती थीं।
राजयोगिनी बीके गीता ने कहा कि आप सब बच्चों को शिवबाबा की आश पूरी करनी है। जो काम बड़े-बड़े भी नहीं कर पाए उस काम को आप सब बच्चों को करना है। समापन के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताओं में फस्र्ट, सेकंड, थर्ड स्थान प्राप्त करने वाले बच्चों को मेडल देकर सम्मानित किया गया।

कॉर्निवाल में उपस्थित देश-विदेश से आए बच्चे।

ये प्रतियोगिताएं हुईं-
100 मीटर रेस में दो एज ग्रुप में, पहला एंजेल दूसरा डायमंड के साथ प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त कर गोल्डन, सिल्वर और ब्रांच मेडल जीते। इन खेलों में बालकों के अलावा बालिकाओं ने विशेष बाजी मारी। एंजल ग्रुप में अहमदाबाद से आईं ताशवी शर्मा और जलगांव से स्वामीम चौधरी ने 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। जलगांव से आईं दिव्या पाटिल ने 50 अंकों के साथ सिल्वर मेडल जीता। पुणे से प्रियंका बालमुकुंद 25 अंकों के साथ ब्रांज पर कब्जा जमाया। डायमंड एज ग्रुप के अंतर्गत न्यू दिल्ली से रेनू और संबलपुर से स्वराज भोक्ता ने 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। लेमन स्पून रेस में दिल्ली से आईं प्रदीपता राहुल और म्यूजिकल चेयर गेम में बैंगलुरु से आईं आरुषि खेरे 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। लॉन्ग जंप प्रतियोगिता में संबलपुर से आए स्वराज भोक्ता ने 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। स्किपिंग रेस प्रतियोगिता में दिल्ली से आए सनम शिव ने 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। मोनो एक्टिंग प्रतियोगिता में मलकापुर से आए कियान विवेक डागा और महिपालपुर से आई हुई रैना कुमारी 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। निबंध लेखनी प्रतियोगिता में दिल्ली से आई प्रदीपता राहुल और अमरावती से राघव चांडक 100 अंकों के साथ गोल्ड जीता। इन प्रतियोगिताओं को सफल बनाने में शिक्षा प्रभाग की मुख्यालय संयोजिका बीके शिविका, बीके भानू, बीके श्रीनिधि की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *