सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
हम संकल्प लेते हैं भारत काे बनाएंगे व्यसनमुक्त उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को किया सम्मानित नई सामाजिक व्यवस्था के लिए सकारात्मक दृष्टि और नैतिक मूल्य जरूरी नींबू दौड़, बोरा दौड़ और लंबी कूद में बच्चों ने दिखाए करतब अपने काम को खुशी और आनंद के साथ करें: बीके शिवानी दीदी फिर से रामराज्य लाने में मीडिया की रहेगी महत्वपूर्ण भूमिका: मंत्री खराड़ी बच्चों ने स्केटिंग, नृत्य और रस्साकशी में दिखाई प्रतिभा
धर्म सभी मनुष्यों को जोड़ता है आपस में - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
धर्म सभी मनुष्यों को जोड़ता है आपस में

धर्म सभी मनुष्यों को जोड़ता है आपस में

राजस्थान राज्य समाचार

जयपुर के सर्वधर्म संगोष्ठी में व्यक्त विचार, सभी धर्मगुरूओं के लिए बनाया अध्यक्ष मंडल

शिव आमंत्रण, जयपुर। जयपुर में देश में प्रेम एवं सौहार्द के वातावरण को सुदृढ़ करने में धर्मगुरूओं की भूमिका पर सर्वधर्म संगोष्ठी का इडियाना ग्रैंड होटल में आयोजन किया गया। जिसमें धर्मगुरूओं ने कहा, कि हम केवल अपने लिए नहीं बल्कि परमार्थ के लिए जीएं। धर्म सभी मनुष्यों को आपस में जोड़ता है। उन्होंने कहा, कि आज यहां सभी धर्मों के आचार्य एक मंच पर उपस्थित हैं और यही असली भारत है।
इस दौरान धार्मिक जन मोर्चा की राजस्थान इकाई का भी गठन किया गया। सभी धर्मगुरूओं के लिए अध्यक्ष मंडल बनाया गया। इसके लिए आगामी दिनों में कार्यक्रमों की रूपरेखा तय की जायेगी।

सभी के अधिकारों का सम्मान
धर्मगुरूओं ने तय किया कि अब से सभी आपस में मिलकर विभिन्न विषयों पर चर्चा करेंगे ताकि समाज में अच्छा संदेश जाए। इस मौके पर जमाअते इस्लामी हिंद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रो0 मो0 सलीम इंजीनियर ने कहा कि सभी के अधिकारों का सम्मान होना चाहिए। गलता तीर्थ के महंत अवधेशाचार्य ने कहा, कि परस्पर आशंकाओं के कारण घृणा बनती है। शहर मुफ्ति मों जाकिर नौमानी ने कहा, कि समाज में प्रेम और सौहार्द बढ़ाने में धर्मगुरूओं की भूमिका अहम है। जयपुर डायसिस के बिशप ओसवल्ड लुइस ने कहा, कि हमे समाज को समझाना होगा कि हम सभी ईश्वर की संतान है।
इस मौके पर उपस्थित सोडाला सेवाकेंद्र प्रभारी बीके स्नेह ने वैश्विक सद्भाव पर अपने विचार रखे साथ ही संक्षिप्त में जानकारी दी कि ब्रह्माकुमारी विश्व आध्यात्मिक संगठन किस तरह लोगों को सुख शांति का मार्ग प्रशस्त करने का कार्य कर रहा है और उनके जीवन में खुशियां ला रहा है। इसके बाद बीके श्याम सुंदर ने कहा, कि यदि आप पवित्र हैं, शुद्ध हैं तो आपको कोई भी परेशान नहीं कर सकता है।
साथ ही गुरूद्वारा जवाहरनगर के मुख्य ग्रंथी ज्ञानी गुरदीप सिंह समेत अनेक धर्मगुरूओं ने अपना वक्तव्य दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *