सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
सही शिक्षा, सही सोच और सही ज्ञान ही हमें ताकत दे सकता है कला के जादू से जीवंत हो उठी रचनाएं, सम्मान से बढ़ाया कलाकारों का मान कलाकार कैनवास पर उकेर रहे मन के भाव कारगिल युद्ध में परमात्मा की याद से विजय पाई: ब्रिगेडियर हरवीर सिंह भारत और नेपाल में भाईचारा का नाता है: नेपाल महापौर विष्णु विशाल राजनेताओं का जीवन आध्यात्मिक होगा तो भारत समृद्ध बनेगा सेना जितनी सशक्त रहेगी हम उतनी शांति से रहेंगे: नौसेना उपप्रमुख घोरमडे
आत्मा की ज्योति जगाना ही है सच्ची दिवाली मनाना - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
आत्मा की ज्योति जगाना ही है सच्ची दिवाली मनाना

आत्मा की ज्योति जगाना ही है सच्ची दिवाली मनाना

दिल्ली राज्य समाचार

दिवाली के स्नेह मिलन कार्यक्रम मे बीके बृजमोहन के विचार

शिव आमंत्रण, गुरुग्राम। ओम शांति रिट्रीट सेंटर में दीपावली के शुभ अवसर पर दिल्ली और एनसीआर के विशेष आमंत्रित बीके भाई – बहनों के लिए आयोजित स्नेह मिलन कार्यक्रम में बोलते हुए संस्था के अतिरिक्त महासचिव बीके बृजमोहन ने अपनी शुभ कामनाएँ व्यक्त करते हुए कहा, कि दीवाली को रोशनी का त्यौहार माना जाता है, लेकिन सच्ची दिवाली मनाना अर्थात आत्मा की ज्योति जगाना। उन्होंने कहा, कि जैसे सूर्य के निकलने से दिन हो जाता है, ठीक इसी तरह ज्ञान सूर्य परमात्मा के आने से ही ज्ञान दिन होता है। उन्होंने कहा, कि परमात्मा द्वारा आत्माओं के ज्ञान दीपक जगाने का यादगार ही वास्तव में दीपावली है।
इस अवसर पर ओआरसी की निदेशिका बीके आशा ने कहा, कि दीवाली पर सभी स्वच्छता का विशेष ध्यान रखते हैं, लेकिन सबसे पहले मन की स्वच्छता बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा, कि परमात्मा की याद की शक्ति और पवित्रता का बल ही हमारा असली सुरक्षा कवच है। वर्तमान समय के अनुसार समेटने की शक्ति, एकाग्रता की शक्ति एवं एकता की विशेष आवश्यकता है।
इस विशेष अवसर पर ओआरसी निवासियों द्वारा गीत संगीत, नृत्य की प्रस्तुति दी गई, वहीं सभी वरिष्ठ सदस्यों ने दीप प्रज्वलित कर और केक कटिंग कर सभी को बधाई दी।
इस विशेष अवसर पर बीके शुक्ला, जापान एवं फिलिपींस की निदेशिका बीके रजनी, बीके पुष्पा एवं बीके विजय ने भी अपनी शुभ कामनाएं व्यक्त की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *