सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
सही शिक्षा, सही सोच और सही ज्ञान ही हमें ताकत दे सकता है कला के जादू से जीवंत हो उठी रचनाएं, सम्मान से बढ़ाया कलाकारों का मान कलाकार कैनवास पर उकेर रहे मन के भाव कारगिल युद्ध में परमात्मा की याद से विजय पाई: ब्रिगेडियर हरवीर सिंह भारत और नेपाल में भाईचारा का नाता है: नेपाल महापौर विष्णु विशाल राजनेताओं का जीवन आध्यात्मिक होगा तो भारत समृद्ध बनेगा सेना जितनी सशक्त रहेगी हम उतनी शांति से रहेंगे: नौसेना उपप्रमुख घोरमडे
श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर नशामुक्ति के लिए किया प्रेरित - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर नशामुक्ति के लिए किया प्रेरित

श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर नशामुक्ति के लिए किया प्रेरित

मुख्य समाचार
  • मनमोहिनीवन के हेल्थ केयर सेंटर में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित
  • 200 से अधिक श्रमिक पुरुष-महिलाओं का किया चेकअप, संतुलित आहार, स्वस्थ्य रहने के बताए टिप्स, नि:शुल्क बांटी दवाइयां

शिव आमंत्रण,21 जनवरी, आबू रोड। ब्रह्माकुमारीज संस्थान के मनमोहिनीवन स्थित हेल्थ केयर सेंटर में गुरुवार को मेडिकल विंग की ओर से स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया गया। इस दौरान कोरोना की गाइड लाइन सहित फिजिकल डिस्टेंस के नियमों का पालन किया गया।
शिविर में मेडिकल प्रभाग के सचिव डॉ0 बनारसी लाल शाह, डॉ. मेघना और डॉ. तृप्ति ने श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुएबताया कि आज फल, सब्जी और अनाज सभी रासायनिक केमिकल, खाद और पेस्टीसाइड के माध्यम से उगाए जा रहे हैं। इससे हम जो भी खाद्य पदार्थ खाते हैं उनके साथ हमारे अंदर केमिकल भी चले जाते हैं जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं। आज लोगों को सामने सबसे बड़ी चुनौती खुद को स्वस्थ रखना हैं। बता दें कि मनमोहिनी वन के हेल्थ केयर सेंटर द्वारा समय-समय पर आमजन और गरीब वर्ग के लोगों के लिए नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण, नशामुक्ति शिविर आयोजित किए जाते हैं।
नशामुक्ति के लिए किया प्रेरित….
इस दौरान मेडिकल विंग की बीके अचला बहन, बीके शुभांगी बहन, बीके शिल्पा बहन, बीके मनीषा बहन ने शिविर में आए लोगों को नशे के दुष्परिणाम बताते हुए नशामुक्त जीवन के लिए प्रेरित किया। श्रमिकों को बताया कि आमतौर पर लोग एक दिन में गुटखा-तंबाकू-पान मसाले में 50 रुपये तक खर्च कर देते हैं, जबकि ये सभी चीजें स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं। साथ ही बचत भी होगी। किसी भी तरह का नशा शारीरिक और मानसिक तौर पर हानिकारक ही होता है। साथही सभी को संकल्प दिलाया कि जीवन में हमेशा नशे से दूर रहेंगे।
बीपी, जोड़ों के दर्द और पेट संबंधी समस्याएं के मिले मरीज
डॉ. मेघना और डॉ. तृप्ति ने बताया कि शिविर के दौरान ज्यादातर मरीजों में ठंड के कारण जोड़ों में दर्द, कब्ज, एसीडिटी और पेट संबंधी समस्याएं मुख्य रूप से सामने आईं। इस पर सभी को सर्दी में ज्यादा से ज्यादा पानी पीने, सुबह-शाम गर्म पानी और दिन में कम से कम एक बार काढ़ा पीने की सलाह दी गई। मरीजों को विटामिन-सी, मल्टीविटामिन, कैल्शियम की दवाइयों के साथ रोग के लक्षण के हिसाब से दवाइयां वितरित की गईं। साथ ही जिनमें गंभीर रोगों के लक्षण दिखे उन्हें टेस्ट कराने के लिए लिखा गया है। इस दौरान मेडिकल विंग के मेहताफ भाई, अविनाश भाई, शुभाष, बीके अमरदीप, बीके कृष्णा, बीके नितिन सहित हरीश भाई, दलजीत भाई भी मौजूद रहे।

डॉक्टर्स ने स्वस्थ रहने के ये बताए गुर…

  • सुबह उठते ही रोजाना एक से दो गिलास गर्म पानी जरूर पीएं।
  • कोशिश करें कि हमेशा ताजा और एक से डेढ़ घंटे के अंतराल से बना भोजन ही ग्रहण करें।
  • सब्जियों को पकाने के पहले गर्म पानी से जरूर धोएं।
  • हमेशा साफ और स्वच्छ कपड़े ही पहनें।अभी कोरोना का खतरा पूरी तरह टला नहीं है इसलिए दिन में बीच-बीच में साबुन से हाथ धोते रहें, साथ ही कोरोना की गाइड लाइन का पालन भी करें।

– रात में सोने के कम से कम ढाई घंटे पहले भोजन करें।

मेडिकल विंग की ओर से समय-समय पर नशामुक्ति एवं स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किए जाते हैं। गुरुवार को मनमोहिनीवन के हेल्थ केयर सेंटर की ओर से यहां शिविर लगाया गया, जिसमें दो सौ से अधिक लोगों का परीक्षण किया गया। साथ ही जिन श्रमिकों को बीमारी के लक्षण पाए गए उन्हें टेस्ट कराने के लिए कहा और नि:शुल्क दवाइयां भी बांटी गईं। डॉ. बनारसीलाल शाह, मुख्यालय संयोजक, मेडिकल विंग, ब्रह्माकुमारीज, शांतिवन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *