सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
सही शिक्षा, सही सोच और सही ज्ञान ही हमें ताकत दे सकता है कला के जादू से जीवंत हो उठी रचनाएं, सम्मान से बढ़ाया कलाकारों का मान कलाकार कैनवास पर उकेर रहे मन के भाव कारगिल युद्ध में परमात्मा की याद से विजय पाई: ब्रिगेडियर हरवीर सिंह भारत और नेपाल में भाईचारा का नाता है: नेपाल महापौर विष्णु विशाल राजनेताओं का जीवन आध्यात्मिक होगा तो भारत समृद्ध बनेगा सेना जितनी सशक्त रहेगी हम उतनी शांति से रहेंगे: नौसेना उपप्रमुख घोरमडे
शक्ति को लगाओ सकारात्मक दिशा में,आयेगी स्वर्णिम दुनिया - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
शक्ति को लगाओ सकारात्मक दिशा में,आयेगी स्वर्णिम दुनिया

शक्ति को लगाओ सकारात्मक दिशा में,आयेगी स्वर्णिम दुनिया

ओड़ीशा राज्य समाचार

दादी रतनमोहिनी का युवाओं को संदेश

शिव आमंत्रण, सम्बलपुर। ओडिशा के सम्बलपुर सब-जोन द्वारा युवाओं के लिए आयोजित नये युग की नई रोशनी वेबिनार मे युवाओं के प्रति अपने आशीर्वचन में दादी रतन मोहिनी ने कहा, नये युग की नई रोशनी का आधार है युवाओं की शक्ति। युवाओं में रचनात्मकता तथा असंभव को संभव करने की शक्ति होती है। युवा अगर अपनी शक्ति को सकारात्मक दिशा में लगाएं तो नई दुनियां सहज आ सकती है।
कार्यक्रम का उद्घाटन युथ विंग की चेअरपर्सन दादी रतन मोहिनी, कटक सब-जोन की डायरेक्टर बीके कमलेश, मुख्य अतिथि संबलपुर के सांसद नितीश गंगदेव, उनकी धर्म पत्नी अरुंधति देवी, मुम्बई से एक्टर, मोडेल एवम् टीवी होस्ट सिद्धार्थ शुक्ला तथा राउरकेला एनटीपीसीएस के एडिशनल जनरल मेनेजर बीके अरुण की उपस्थिति में हुआ।
कार्यक्रम के शुभारम्भ में बीके पार्वती ने गुलदस्तों, उत्तरीय तथा शब्दों के द्वारा सभी मेहमानों का स्वागत किया। कुमारी गुनगुन ने स्वागत नृत्य प्रस्तुत किया।

वेबीनार में शामिल अतिथि।

बीके चन्द्रिका (अहमदाबाद) ने कहा, नई दुनिया या गोल्डन एज आने से पहले हर एक के दिल से आवाज निकलेगा कि मेरा बाबा आ गया, मेरा प्रभु आ गया, मेरा भगवान आ गया… अगर हम परमात्म शक्ति को अपने अंदर धारण करके चलें तो ये नई रौशनी लोगों को हमसे ही दिखाई देगी।
बीके कमलेश ने कहा, जन जन तक परमात्म सन्देश पहुँचाने के लिए परमात्मा ने विशेष युवाओं को ही चुना है। आध्यात्मिक ज्ञान के द्वारा नई दुनियां लाने में युवाओं का बहुत बडा हाथ है ।
अरुंधति देवी ने कहा, खास युवा अपने जीवन में मैडिटेशन, योगा अपनाये और अच्छी शिक्षावाली किताबें पढ़े तो अपने जीवन में सुधार ला सकते हैं।
सिद्धार्थ शुक्ला ने कहा, आज दुनियाँ में स्ट्रेस बहुत बढ़ रहा है लेकिन ब्रह्माकुमारीज में जो शिक्षा दी जा रही है वो हमें जीवन जीना सिखाती है।
बीके अरुण ने कहा, परमात्मा का मिशन है नई दुनियां बनाना। इसके लिए चाहीए स्वराज्य अधिकारी एवं आत्म-अभिमानी स्थिति। हम खुद को परिवर्तन करेंगे तो विश्व परिवर्तन अपने आप होगा।
सारे दिन के कार्यक्रम में बीके चन्द्रिका (अहमदाबाद ), बीके सुधा (रशिया), बीके सपना (चीन), बीके ललित एवं बीके आत्मप्रकाश (मधुबन) ने बहुत रूचिकर विषयों पर नए युग के लिए नए संस्कारों की जागृति, युवा जीवन में बैलेंस से ब्लेसिंग की प्राप्ति, एक्टिव एवं अलर्ट युवा, पावरफुल वृत्ति से सतोप्रधान प्रकृती आदी पर क्लास तथा योगाभ्यास करवाया। शाम को बीके युवाओं के प्रश्नों को लेकर एक पैनल डिस्कशन रखा गया था, जिसमें बीके कृति (अहमदाबाद), बीके राम कृष्णा (हैदराबाद), बीके श्रेया (मुंबई) तथा बीके श्रीनिधि (मधुबन) ने युवाओं के प्रश्नों का संतोषजनक उत्तर दिया।
इस कार्यक्रम में ओडिशा तथा कुछ अन्य प्रांतों के करीब 350 बीके युवा भाई बहनें लगातार जुड़े रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *