सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
परमात्मा की छत्रछाया में रहें तोे सदा हल्के रहेंगे: बीके बृजमोहन भाई ईशु दादी का जीवन समर्पण भाव और ईमानदारी की मिसाल था ब्रह्माकुमारीज़ जैसा समर्पण भाव दुनिया में आ जाए तो स्वर्ग बन जाए: मुख्यमंत्री दिव्यांग बच्चों को सिखाई राजयोग मेडिटेशन की विधि आप सभी परमात्मा के घर में सेवा साथी हैं थॉट लैब से कर रहे सकारात्मक संकल्पों का सृजन नकारात्मक विचारों से मन की सुरक्षा करना बहुत जरूरी: बीके सुदेश दीदी
दिल्ली की राजयोगिनी बीके शुक्ला दीदी को डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
दिल्ली की राजयोगिनी बीके शुक्ला दीदी को डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा

दिल्ली की राजयोगिनी बीके शुक्ला दीदी को डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा

मुख्य समाचार
  • रेडियो मधुबन का तमिल एप लांच
  • मणिपुर इंटरनेशनल विश्वविद्यालय के कुलपति ने प्रदान की उपाधि

शिव आमंत्रण,आबू रोड। ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के मुख्यालय शांतिवन में आयोजित कार्यक्रम में ब्रह्माकुमारीज दिल्ली हरिनगर सबजोन की निदेशिका राजयोगिनी बीके शुक्ला दीदी को मणिपुर इंटरनेशनल विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टरेट की उपाधि प्रदान की गई। कुलपति डॉ. हरिकुमार ने कहा कि आज दीदी को यह उपाधि देते हुए हम अत्यंत गर्व का अनुभव कर रहे हैं। दीदी ने अपना पूरा जीवन मानवता की सेवा, समाज कल्याण और आध्यात्मिक जागृति में समर्पित कर दिया। आपके मार्गदर्शन में हजारों लोग व्यसन, बुराई छोड़कर अध्यात्म और राजयोग के मार्ग पर चल रहे हैं। जीवन पर्यंत आपके द्वारा की गई मानवता की सेवा को देखते हुए विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया जा रहा है।

राजस्थानी नृत्य पेश करते हुए कलाकार।

1956 में पहली बार बाबा से मिलीं-
बता दें कि राजयोगिनी बीके शुक्ला दीदी का जन्म 1936 में अमृतसर में हुआ। 18 वर्ष की आयु में 1954 में संस्था के संपर्क में आईं। 1956 में संस्थापक ब्रह्मा बाबा और प्रथम मुख्य प्रशासिका मातेश्वरी जगदम्बा सरस्वरी (मम्मा) के अमृतसर आगमन पर पहली बार मिलना हुआ और तभी आपने ईश्वरीय सेवा के लिए अपना जीवन समर्पित करने का संकल्प कर लिया। आपके मार्गदर्शन में दिल्ली और हरियाणा में 130 से अधिक सेवाकेंद्र, उपसेवाकेंद्र, एक हजार से अधिक ब्रह्माकुमारी पाठशाला संचालित हैं। 500 से अधिक ब्रह्माकुमार भाई-बहनें समर्पित रूप से सेवा प्रदान कर रहे हैं।

रेडियो मधुबन के तमिल एक की लांचिंग करते हुए वरिष्ठ पदाधिकारी।

रेडियो मधुबन का तमिल एप अमूध मलई लांच-
इस दौरान कार्यकारी सचिव डॉ. बीके मृत्युंजय भाई, मीडिया निदेशक बीके करुणा भाई, अजमेर संभाग संचालिका राजयोगिनी बीके शांता दीदी, तमिलनाडु की निदेशिका राजयोगिनी बीके वीना दीदी, रेडियो मधुबन के स्टेशन हैड बीके यशवंत भाई ने तमिल भाषा में रेडियो स्टेशन के मोबाइल एप अमूध मलई की लांचिंग की। वहीं मुंबई से आईं वरिष्ठ पत्रकार, लेखिका और बिग बॉस की कंटेस्टेंट्स सुगना मोरा का कार्यकारी सचिव डॉ. बीके मृत्युंजय भाई ने शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *