सभी आध्यात्मिक जगत की सबसे बेहतरीन ख़बरें
ब्रेकिंग
हम संकल्प लेते हैं भारत काे बनाएंगे व्यसनमुक्त उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को किया सम्मानित नई सामाजिक व्यवस्था के लिए सकारात्मक दृष्टि और नैतिक मूल्य जरूरी नींबू दौड़, बोरा दौड़ और लंबी कूद में बच्चों ने दिखाए करतब अपने काम को खुशी और आनंद के साथ करें: बीके शिवानी दीदी फिर से रामराज्य लाने में मीडिया की रहेगी महत्वपूर्ण भूमिका: मंत्री खराड़ी बच्चों ने स्केटिंग, नृत्य और रस्साकशी में दिखाई प्रतिभा
जानिए,पपीता खाने से फायदे और नुकसान खुद को नहीं रोक पाएंगे आप - Shiv Amantran | Brahma Kumaris
जानिए,पपीता खाने से फायदे और नुकसान खुद को नहीं रोक पाएंगे आप

जानिए,पपीता खाने से फायदे और नुकसान खुद को नहीं रोक पाएंगे आप

स्वास्थ्य

पपीता एक ऐसा लोकप्रिय फल है, जिसे भारत सहित दुनिया भर में खूब खाया जाता है। यह हमारे स्वास्थ्य और त्वचा में सुधार लाने के लिए बेहतरीन फल है। इसमें विटामिन ए, सी, नियासिन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, कैरोटिन, प्राकृतिक फाइबर और प्रोटीन जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके बीज और पत्तियों का भी औषधीय इस्तेमाल किया जाता है। इसके बीज में मैग्नीशियम, प्रोटीन, कैल्शियम और फास्फोरस आदि पाए जाते हैं। इसमें एंटीऑक्सिडेंट और विषाक्तता को दूर करने वाले प्रभाव भी नजर आते हैं। इसके जीवाणुरोधी बीज को भी आप निकालकर खा सकते हैं। पपीते के नियमित प्रयोग से आप कई बीमारियों से बच सकते हैं।

1.खाली पेट पपीता खाने का फायदा- 

सुबह सबसे पहले पपीते का सेवन हृदय रोग के खतरे को कम करने, कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और स्ट्रोक को रोकने में  मदद करता है। खाली पेट पपीता खाने से पूरे दिन आपके बल्ड शुगर के स्तर को स्थिर रखने में  मदद करता है। 

2. पाचन को बढ़ावा देता है-

अगर आप पाचन संबंधी समस्या से परेशान हैं, तो आप अपनी डाइट में पपीते को शामिल कर सकते हैं। पपीते में मौजूद पपेन नामक एंजाइम प्रोटीन को आसानी से पचने में मदद करता है।   

3. इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार-

पपीता विटामिन सी से भी भरपूर होता है, जो कई मौसमी बीमारियों को रोकने और इम्यून हेल्थ को बढ़ावा देने में मदद करता है। विटामिन सी की एक अच्छी खुराक भी सूजन से लड़ने और शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मदद करती है।

4. रक्तचाप को नियंत्रित करने में-

पपीता में मौजूद पोटेशियम हमारे शरीर में सोडियम के प्रभाव को कम करके रक्तचाप के स्तर को बनाए रखता है। उच्च रक्तचाप से पीड़ित व्यक्ति यदि नियमित रूप से पपीते का सेवन करे तो उसे काफी लाभ मिलता है।

5. ह्रदय रोग में-

पपीते में पाया जाने वाला विटामिन ए, सी और ई प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. यही नहीं इसमें एंटीऑक्सिडेंट और फाइबर भी खूब पाया जाता है. फाइबर कोलेस्ट्राल के स्तर को कम करनें का काम करता है। ये सभी तत्व मिलकर ह्रदय को तमाम खतरों से बचाने का काम करते हैं।

6. कैंसर के उपचार में-

पपीता में पाया जाने वाला लाइकोपिन, कैरोटिनॉइड, एंटीऑक्सिडेंट, बीटा-क्रिप्टोक्साथीन और बीटा कैरोटिन आदि तत्व कैंसर को दूर करने में काफी सहायक होते हैं। इसमें आइसोथियोसाइनेट्स नाम का तत्व भी पाया जाता है जो कि कार्सिनोजेंस को नष्ट करने का काम करता है।

पपीता से नुकसान-

पपीता कई स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है, लेकिन हार्ट प्रोब्लम्स वाले लोगों और गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए ये रिक्शन कर सकता है। पपीते में लैक्सेटिव गुण होते हैं जो गर्भवती महिलाओं के लिए हानिकारक हो सकता है। दूसरी ओर, फलों में पपैन नामक यौगिक हार्ट रेट को धीमा कर सकता है, जिससे हार्ट रिलेटेड समस्याओं का जोखिम हो सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *